खइके पान बनारस वाला | Khaike Paan Banaras Wala Lyrics in Hindi

खइके पान बनारस वाला लिरिक्स हिंदी में | Khaike Paan Banaras Wala Lyrics in Hindi: अमिताभ बच्चन और जीनत अमान अभिनीत गीत खइके पान बनारस वाला सबसे लोकप्रिय हिंदी गीतों में से एक है और वर्तमान में भारत में ट्रेंड कर रहा है। सारेगामा द्वारा प्रस्तुत 12 मई 1978 को रिलीज़ हुई फ़िल्म/एल्बम ‘डॉन 1978’ में खइके पान बनारस वाला गीत जोड़े गए। खइके पान बनारस वाला लिरिक्स के सिंगर किशोर कुमार हैं और खइके पान बनारस वाला लिरिक्स का म्यूजिक कल्याणजी आनंदजी ने दिया है। खइके पान बनारस वाला लिरिक्स अंजान द्वारा लिखे गए थे। इस पेज पर आपको खइके पान बनारस वाला लिरिक्स हिंदी में (Khaike Paan Banaras Wala Lyrics in Hindi) मिलेंगे।

खइके पान बनारस वाला गीत का विवरण – किशोर कुमार

  • विवरण: खइके पान बनारस वाला लिरिक्स हिंदी में | Khaike Paan Banaras Wala Lyrics in Hindi
  • गाने का नाम: खइके पान बनारस वाला
  • गायक का नाम: किशोर कुमार
  • संगीतकार: कल्याणजी आनंदजी
  • गीत: अंजान
  • फिल्म/एल्बम का नाम: डॉन 1978
  • अभिनेता: अमिताभ बच्चन और जीनत अमान
  • निदेशक: चंद्र बरोत
  • रिलीज़ की तारीख: 12 मई 1978
  • भाषा: हिंदी
  • म्यूज़िक लेबल: सारेगामा

खइके पान बनारस वाला लिरिक्स हिंदी में | Khaike Paan Banaras Wala Lyrics in Hindi – किशोर कुमार

खइके पान बनारस वाला लिरिक्स हिंदी में, Khaike Paan Banaras Wala Lyrics in Hindi, किशोर कुमार

हम्म्.. बुर्रर्रर्र..
अरे भांग का रंग जमा हो चकाचक
फिर लो पान चबाय
आ उम् उम्..आ हा
अरे ऐसा झटका, लगे जिया पे
पुनर जनम होई जाय

ओ खइके पान बनारस वाला
ओ खइके पान बनारस वाला
खुल जाए बंद अकल का ताला
ओ खइके पान बनारस वाला
खुल जाए बंद अकल का ताला
फिर तो ऐसा करे धमाल
सीधी कर दे सबकी चाल
ओ छोरा गंगा किनारे वाला
ओ छोरा गंगा किनारे वाला
ओ खइके पान बनारस वाला
खुल जाए बंद अकल का ताला

ईउ…
अरे राम दुहाई
कैसे चक्कर में पड़ गया, हाय हाय हाय..
कहाँ जान फँसाई
मैं तो सूली पे चढ़ गया, हाय हाय
कैसा सीधा सादा, मैं कैसा भोला भाला, हा हा
अरे कैसा सीधा सादा, मैं कैसा भोला भाला
जाने कौन घड़ी में पड़ गया, पढ़े-लिखों से पाला
मीठी छूरी से, मीठी छूरी से हुआ हलाल
छोरा गंगा किनारे वाला
ओ छोरा गंगा किनारे वाला
ओ खइके पान बनारस वाला
खुल जाए बंद अकल का ताला

इउ…

एक कन्या कुँवारी
हमरी सूरत पे मर गई, हाय हाय हाय
एक मीठी कटारी

हमरे दिल में उतर गई, हाय हाय
कैसी गोरी गोरी, वो तीखी तीखी छोरी, वाह वाह
अरे कैसी गोरी गोरी, वो तीखी तीखी छोरी
करके जोरा-जोरी, कर गई हमरे दिल की चोरी
मिली छोरी तो, मिली छोरी तो हुआ निहाल
छोरा गंगा किनारे वाला
ओ छोरा गंगा किनारे वाला

ओ खइके पान बनारस वाला
खुल जाए बंद अकल का ताला
ओ खइके पान बनारस वाला
खुल जाए बंद अकल का ताला
फिर तो ऐसा करे धमाल
सीधी कर दे सबकी चाल
ओ छोरा गंगा किनारे वाला

ओ छोरा गंगा किनारे वाला
ओ छोरा गंगा किनारे वाला…

किशोर कुमार के बारे में – Khaike Paan Banaras Wala Singer

किशोर कुमार (जन्म आभास कुमार गांगुली (उच्चारण (सहायता · जानकारी)); 4 अगस्त 1929 – 13 अक्टूबर 1987) एक भारतीय पार्श्व गायक और अभिनेता थे। उन्हें व्यापक रूप से भारतीय संगीत के इतिहास में सबसे महान और सबसे गतिशील गायकों में से एक माना जाता है। वह भारतीय फिल्म उद्योग में सबसे लोकप्रिय गायकों में से एक थे, जो अपनी योडलिंग और विभिन्न आवाजों में गाने गाने की क्षमता के लिए उल्लेखनीय थे। कुमार अलग-अलग शैलियों में गाते थे लेकिन उनकी कुछ दुर्लभ रचनाएँ जिन्हें क्लासिक्स माना जाता था, समय के साथ खो गईं। अशोक कुमार के अनुसार, कुमार को सफलता इसलिए मिली क्योंकि उनकी आवाज सीधे सबसे संवेदनशील बिंदु पर माइक्रोफोन से टकराई।

हिंदी के अलावा, उन्होंने बंगाली, मराठी, असमिया, गुजराती, कन्नड़, भोजपुरी, मलयालम, ओडिया, उर्दू आदि सहित कई भारतीय भाषाओं में गाया। उन्होंने कई भाषाओं में कुछ गैर-फिल्मी एल्बम भी जारी किए, खासकर बंगाली में जो प्रसिद्ध हैं। सर्वकालिक क्लासिक्स के रूप में। [20]

उन्होंने सर्वश्रेष्ठ पुरुष पार्श्वगायक के लिए 8 फिल्मफेयर पुरस्कार जीते और उस श्रेणी में सबसे अधिक फिल्मफेयर पुरस्कार जीतने का रिकॉर्ड बनाया। उन्हें 1985-86 में मध्य प्रदेश सरकार द्वारा लता मंगेशकर पुरस्कार से सम्मानित किया गया था।

1997 में, मध्य प्रदेश सरकार ने हिंदी सिनेमा में योगदान के लिए “किशोर कुमार पुरस्कार” नामक एक पुरस्कार की शुरुआत की। 2012 में नई दिल्ली में ओसियां ​​की सिनेफैन नीलामी में कुमार का अप्रकाशित अंतिम गीत 1,560,000 रुपये में बिका।

स्रोत: विकिपीडिया

हिंदी में (अमिताभ बच्चन और जीनत अमान अभिनीत) गीत खइके पान बनारस वाला लिरिक्स लोगों के बीच बहुत लोकप्रिय हुआ और भारत में ट्रेंडिंग गानों में से एक बन गया। दर्शकों के बीच ‘खइके पान बनारस वाला’ के लिरिक्स भी बहुत लोकप्रिय हैं। खइके पान बनारस वाला लिरिक्स हिंदी में बहुत लोकप्रिय होने का कारण उनका आकर्षण है और हम में से अधिकांश लोग Khaike Paan Banaras Wala Lyrics in Hindi सीखना चाहते हैं और उन्हें गाना चाहते हैं। खइके पान बनारस वाला लिरिक्स हिंदी में वास्तव में सुखदायक हैं।

मुझे उम्मीद है कि खइके पान बनारस वाला लिरिक्स हिंदी में ने आपकी मदद की है। यदि आपके पास Khaike Paan Banaras Wala Lyrics in Hindi या इस वेबसाइट की किसी अन्य सामग्री से संबंधित कोई समस्या/प्रश्न है या यदि आपको खइके पान बनारस वाला लिरिक्स हिंदी में कोई गलती मिलती है, तो मुझसे [email protected] पर संपर्क करने में संकोच न करें या इस फ़ॉर्म भरें।

अधिकतर पूछे जाने वाले सवाल

खइके पान बनारस वाला लिरिक्स के गायक कौन हैं?

किशोर कुमार खइके पान बनारस वाला लिरिक्स के गायक हैं।

खइके पान बनारस वाला लिरिक्स के संगीतकार कौन हैं?

खइके पान बनारस वाला लिरिक्स के म्यूजिक कंपोजर कल्याणजी आनंदजी हैं।

खइके पान बनारस वाला लिरिक्स हिंदी में किसने लिखा?

अंजान ने खइके पान बनारस वाला लिरिक्स हिंदी में लिखा है।

खइके पान बनारस वाला के लिरिक्स की भाषा क्या है?

खइके पान बनारस वाला लिरिक्स की भाषा हिंदी है।

संबंधित पोस्ट

Love This Post? Rate it..
Previous articleब्राउन शॉर्टी लिरिक्स | Brown Shortie Lyrics in Hindi – Sidhu Moose Wala
Next articleनमो नमो लिरिक्स हिंदी में | Namo Namo Lyrics in Hindi

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here