Home Hindi Patriotic Songs वंदे मातरम लिरिक्स हिंदी मैं | Vande Mataram Anand Math Lyrics in...

वंदे मातरम लिरिक्स हिंदी मैं | Vande Mataram Anand Math Lyrics in Hindi

इस लेख में हम Vande Mataram Anand Math Lyrics in Hindi या वंदे मातरम आनंद मठ लिरिक्स हिंदी मैं विषय पर चर्चा करेंगे। वंदे मातरम भारत का एक राष्ट्रीय गीत है जिसे 1896 में रवींद्रनाथ टैगोर ने पहली बार गाया था। वंदे मातरम गीत बंगाली भाषा में 1870 में बंकिम चंद्र चटर्जी द्वारा लिखा गया हिंदू महाकाव्य महाभारत पर आधारित एक कविता है। बाद में यह गीत उनके 1882 के बंगाली उपन्यास आनंदमठ में जोड़ा गया। गीत राष्ट्रवाद के विषय और सांस्कृतिक परंपराओं के संरक्षण के महत्व से संबंधित हैं। वंदे मातरम अक्सर स्वतंत्रता दिवस समारोह और अन्य देशभक्ति कार्यक्रमों में गाया जाता है। इस पेज पर आपको वंदे मातरम आनंद मठ लिरिक्स हिंदी मैं (Vande Mataram Anand Math Lyrics in Hindi) मिलेंगे।

वंदे मातरम गीत का विवरण – बंकिम चंद्र चटर्जी

  • विवरण: वंदे मातरम आनंद मठ लिरिक्स हिंदी मैं | Vande Mataram Anand Math Lyrics in Hindi
  • गाने का नाम: वंदे मातरम
  • गायक का नाम: रविंद्रनाथ टैगोर
  • संगीतकार: रविंद्रनाथ टैगोर
  • गीत: बंकिम चंद्र चटर्जी
  • रिलीज़ की तारीख: 1870
  • भाषा: बंगाली
  • शैली: देशभक्ति

Vande Mataram Anand Math Lyrics in Hindi | वंदे मातरम आनंद मठ लिरिक्स हिंदी मैं – रविंद्रनाथ टैगोर

वन्दे मातरम्
सुजलां सुफलां मलयजशीतलाम्
शस्य श्यामलां मातरं .
शुभ्र ज्योत्स्न पुलकित यामिनीम
फुल्ल कुसुमित द्रुमदलशोभिनीम्,
सुहासिनीं सुमधुर भाषिणीम् .
सुखदां वरदां मातरम्.. वन्दे मातरम्…

सप्त कोटि कन्ठ कलकल निनाद कराले

निसप्त कोटि भुजैध्रुत खरकरवाले
के बोले मा तुमी अबले
बहुबल धारिणीं नमामि तारिणीम्
रिपुदलवारिणीं मातरम्.. वन्दे मातरम्…

तुमि विद्या तुमि धर्म, तुमि हृदि तुमि मर्म
त्वं हि प्राणाः शरीरे
बाहुते तुमि मा शक्ति,
हृदये तुमि मा भक्ति,
तोमारै प्रतिमा गडि मंदिरे मंदिरे.. वन्दे मातरम्…

त्वं हि दुर्गा दशप्रहरणधारिणी
कमला कमलदल विहारिणी
वाणी विद्यादायिनी, नमामि त्वाम्
नमामि कमलां अमलां अतुलाम्
सुजलां सुफलां मातरम्.. वन्दे मातरम्…

श्यामलां सरलां सुस्मितां भूषिताम्
धरणीं भरणीं मातरम्.. वन्दे मातरम्…

वंदे मातरम लिरिक्स के अंग्रेजी अनुवाद | Vande Mataram Lyrics English Translation

Mother, I bow to thee!
Rich with thy hurrying streams,
Bright with thy orchard gleams,
Cool with the winds of delight,
Dark fields waving, Mother of might,
Mother free.

Glory of moonlight dreams,
Over thy branches and lordly streams,
Clad in thy blossoming trees,
Mother, giver of ease,
Laughing low and sweet,
Mother, I kiss thy feet,
Speaker sweet and low,
Mother, to thee I bow. [Verse 1]

Who hath said thou art weak in thy lands,
When the swords flash out in seventy million hands,
And seventy million voices roar
Thy dreadful name from shore to shore?
With many strengths who art mighty and strong,
To thee I call, Mother and Lord!
Thou who savest, arise and save!
To her I cry who ever her foemen drove
Back from plain and Sea
And shook herself free. [Verse 2]

Thou art wisdom, thou art law,
Thou art heart, our soul, our breath
Thou art love divine, the awe
In our hearts that conquers death.
Thine the strength that nerves the arm,
Thine the beauty, thine the charm.
Every image divine.
In our temples is but thine. [Verse 3]

Thou art Goddess Durga, Lady and Queen,
With her hands that strike and her swords of sheen,
Thou art Goddess Kamala (Lakshmi), lotus-throned,
And Goddess Vani (Saraswati), bestower of wisdom known
Pure and perfect without peer,
Mother lend thine ear,
Rich with thy hurrying streams,
Bright with thy orchard gleams,
Dark of hue O candid-fair [Verse 4]

In thy soul, with jeweled hair
And thy glorious smile divine,
Loveliest of all earthly lands,
Showering wealth from well-stored hands!
Mother, mother mine!
Mother sweet, I bow to thee,
Mother great and free! [Verse 5]

स्रोत: विकिपीडिया

1870 के दशक में बंकिम चंद्र चटर्जी द्वारा लिखा गया और रविंद्रनाथ टैगोर द्वारा गाया गया वंदे मातरम गीत या Vande Mataram Lyrics लिखे जाने के 100 साल बाद भी लोकप्रिय है। यह गीत ब्रिटिश उपनिवेशवाद और उसके आत्मसात और भेदभाव के मूल्यों के खिलाफ प्रतिरोध का प्रतीक है। यह स्वतंत्रता और राष्ट्रीय एकता के लिए भारतीय संघर्ष का प्रतिनिधित्व करता है। भारत में दशकों की राजनीतिक उथल-पुथल और सामाजिक परिवर्तन के बाद भी माधुर्य अपरिवर्तित रहता है। देश के स्वतंत्रता आंदोलन के लिए देशभक्ति और समर्थन दिखाने के लिए गीत अक्सर सार्वजनिक समारोहों में गाया जाता है। वंदे मातरम आनंद मठ लिरिक्स हिंदी मैं (Vande Mataram Anand Math Lyrics in Hindi) वास्तव में सुखदायक हैं।

मुझे उम्मीद है कि वंदे मातरम आनंद मठ लिरिक्स हिंदी मैं ने आपकी मदद की है। यदि आपके पास Vande Mataram Anand Math Lyrics in Hindi या इस वेबसाइट की किसी अन्य सामग्री से संबंधित कोई समस्या/प्रश्न है या यदि आपको वंदे मातरम आनंद मठ लिरिक्स हिंदी मैं (Vande Mataram Anand Math Lyrics in Hindi) कोई गलती मिलती है, तो मुझसे lyricspace11@gmail.com पर संपर्क करने में संकोच न करें या इस फ़ॉर्म भरें।

अधिकतर पूछे जाने वाले सवाल

Vande Mataram Anand Math Lyrics in Hindi मुझे कहाँ मिलेगा?

Vande Mataram Anand Math Lyrics in Hindi आपको ऊपर इस पेज पर ही मिलेगा।

वंदे मातरम लिरिक्स के गायक कौन हैं?

रविंद्रनाथ टैगोर वंदे मातरम लिरिक्स के गायक हैं।

वंदे मातरम लिरिक्स के संगीतकार कौन हैं?

रविंद्रनाथ टैगोर वंदे मातरम लिरिक्स के म्यूजिक कंपोजर हैं।

वंदे मातरम लिरिक्स हिंदी में किसने लिखा?

बंकिम चंद्र चटर्जी ने वंदे मातरम लिरिक्स लिखा है।

वंदे मातरम के लिरिक्स की भाषा क्या है?

वंदे मातरम लिरिक्स की भाषा बंगाली है।

संबंधित पोस्ट

संबंधित प्रश्न

  • Vande Mataram Anand Math Lyrics in Hindi क्या है?
  • वंदे मातरम आनंद मठ लिरिक्स हिंदी मैं मुझे कहाँ मिलेगा?
4.8/5 - (14 votes)

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here